Latest news
जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड निगम की मिसमैनेजमैंट का संताप नहीं झेलेंगे 66 फुटी रोड वासी, ट्रीटमैंट प्लांट पर कूड़ा फैंकना बंद कर... पंजाब- बिल्डिंग इंस्पैकटर हरप्रीत कौर को लोकल बॉडी विभाग ने किया सस्पैंड, पढ़े क्या है कारण सनसनी- जालन्धर रेलवे स्टेशन पर रखे अटैची में 32 वर्षीय व्यक्ति का शव बरामद, सीसीटीवी खंगाल रही पुलिस डीसी दफ्तर में फिर हड़ताल का बज सकता है बिगुल, यूनियन नेता पवन वर्मा के खिलाफ दर्ज हुई FIR के बाद पं...

जाखड़ के ब्यान के बाद चुनावी प्रचार छोड़ माता वैष्णो देवी दरबार पहुंचे सिद्धू , पढ़े वजह



रोज़ाना पोस्ट 




दिग्गज नेताओं के क्रियाकलापों से पंजाब कांग्रेस में खलबली मची हुई है। बुधवार सुबह पंजाब कांग्रेस के पूर्व प्रधान सुनील जाखड़ के सीएम बनने को 42 विधायकों के समर्थन के दावे के बाद अब नवजोत सिंह सिद्धू को लेकर बड़ी खबर आई है। विधानसभा हलका अमृतसर पूर्वी से कांग्रेस प्रत्याशी नवजोत सिंह सिद्धू बुधवार को अचानक चुनाव प्रचार छोड़ माता वैष्णो देवी के दर्शन करने रवाना हो गए। इसके बाद राजनीतिक चर्चाओं का बाजार गर्म हो गया है कि कहीं कांग्रेस सीएम फेस की घोषणा तो नहीं करने वाली है। माता वैष्णो देवी जाने को लेकर सिद्धू ने खुद ट्विटर पर भी पोस्ट भी डाली है। उन्होंने माता वैष्णो देवी दरबार जाने के बारे में लिखते हुए माता वैष्णो देवी से प्रार्थना की कि वे दुष्टों का विनाश करें, पंजाब का कल्याण करें और धर्म की स्थापना करें। 

राजनीति के माहिर इसे पंजाब कांग्रेस कुर्सी को लेकर मचे घमासान के नतीजे के रूप में देख रहे हैं। बता दें कि कांग्रेस की ओर से मुख्यमंत्री चेहरे के लिए आप की तर्ज पर आनलाइन सर्वे करवाया जा रहा है। कांग्रेस कभी भी पंजाब में सीएम फेस की घोषणा कर सकती है। 

सुबह पूर्व पंजाब कांग्रेस प्रधान सुनील जाखड़ ने यह कहकर राजनीतिक खलबली मचा दी कि पूर्व सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह के त्याग पत्र के बाद उन्हें 42 विधायकों का समर्थन हासिल था लेकिन सीएम बने 2 विधायकों के समर्थन वाले चरणजीत सिंह चन्नी। सुखजिंदर सिंह रंधावा को 16 और नवजोत सिंह सिद्धू को मात्र 6 विधायकों ने अपना समर्थन दिया था। 

दस निर्धारित कार्यक्रम छोड़कर माता वैष्णो देवी गए सिद्धू

सिद्धू के बुधवार के शेड्यूल के मुताबिक हलके की विभिन्न वार्डों में दस के लगभग कार्यक्रम निर्धारित थे। सुबह डीसीसी की पूर्व प्रधान व पार्षद जतिंदर सोनिया के निवास पर रखे गए पहले ही कार्यक्रम में वह नहीं पहुंचे। पता करने पर जानकारी मिली कि सिद्धू मां वैष्णों देवी के दर्शनों को चले गए हैं। उनके अचानक यूं हलके से जाने से कई तरह की चर्चाएं की जा रही हैं। कांग्रेस की पूर्व शहरी प्रधान व पार्षद जतिंदर सोनिया बताया कि उनके घर पर सिद्धू के आने की जानकारी मिली थी। वैसे मंगलवार को कार्यक्रम था, जिसमें सिद्धू ने आना था, पर वह नहीं आए। बुधवार को उनके आने की उम्मीद थी, पर कोई सूचना नही दी थी।