Latest news
जालन्धर-मंडी फैंटनगंज में बनी दो बड़ी नाजायज इमारतों के खिलाफ कारवाई न करने वाले 7 अधिकारियों के खिल... जाल्नधर - Charcoal Restaurant में खाना खाकर बच्चों समेत तीन महिलाएं मौके पर हुई बेहोश,अस्पताल में भर... जालन्धरः डीसीपी नरेश डोगरा पर दिन चढ़ते ही गिरी एक ओर गाज, पढे पूरा मामला जालन्धरः दुकानदारों के मामूली विवाद ने लिया भयानक रुप,डीसीपी नरेश डोगरा के खिलाफ ही दर्ज हुई FIR, पढ... नशे में धुत व्यक्ति ने घर में घुसकर की मारपीट और तोड़फोड़, पुलिस के साथ भी झगड़ा पंजाब में सियासत गर्माई- ओप्रेशन लोटस के विवाद पर पंजाब में भाजपा पर केस दर्ज, विजीलैंस को सौंपी जां... चार साल बाद री-सील हुआ विरासत हवेली रैस्टोंरैंट (एम्पायर हेरीटेज) के पीछे क्या है राज, पढ़े क्यो चार... Plaza Hotel में बन रही Multistorey Market के मामले में निगम प्रशासन के खिलाफ अदालत में केस दायर करेग... प्रताप बाग के नजदीक एक दुकान के नक्शे पर बनी तीन सैनिटरी की दुकानें, चौथी की तैयारी पंजाब : SHO से परेशान ASI मुंशी ने थाने में खुद को मारी गोली, मौत

बड़ी खबर- बिल्डिंग विभाग से ईओ कम सहायक कमिशनर राजेश खोखर की छुट्टी, ज्वाईंट कमिशनर शिखा भगत को मिली दो और अहम विभागों की कमान

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

अनिल वर्मा

पंजाब सरकार की ओर से बीते माह किए गए तबादलों दौरान जालन्धर नगर निगम में एस्टेट अफसर राजेश खोखर को ट्रांसफर किया था जिसके बाद कमिशनर दविंदर सिंह ने उन्हे सहायक कमिशनर का चार्ज सौंपते हुए बिल्डंग विभाग का कामकाज सौंपा था मगर कमिशनर द्वारा राजेश खोखर को दिए गए बिल्डिंग विभाग के चार्ज का कोई फायदा नहीं हुआ उन्होने अपने कार्यकाल दौरान शहर में बन रही अवैध इमारतों को रोकने के लिए कोई प्रयास नहीं किया जिस कारण सरकार का बड़े स्तर पर रैवन्यू लॉस हुआ यही नहीं बीते दिनों ईओ कम सहायक कमिशनर राजेश खोखर की ओर से अपनी शक्तियों का दुप्रयोग करते हुए नॉन टैक्निकल स्टाफ को बिल्डिंग विभाग में इंस्पैक्टर तैनात कर उन्हे कई सैक्टर अलॉट कर दिए गए जबकि पंजाब सरकार द्वारा जारी निर्देशों अनुसार बिल्डिंग इंस्पैक्टर का काम सिर्फ टैक्टनिकल डिग्री हासिल किए अधिकारी को ही दिया जा सकता है। राजेश खोखर की मनमानियों की कई शिकायतें सीएम दरबार पहुंची जिसके बाद हरकत में आए लोकल बॉडी विभाग ने राजेश खोखर को सौंपे गए चार्ज संबधि सारा रिकार्ड तलब किया जिसमें कई अनियमितताएं पाई गई।

मामले में तुरंत संज्ञान लेते हुए डायरैक्टर लोकल बॉडी की ओर से कमिशनर दविंदर सिंह को राजेश खोखर को दिए गए चार्ज को तुरंत वापिस लेने के लिए आदेश जारी किए गए जिसके बाद आज कमिशनर दविंदर सिंह ने आदेश जारी करते हुए राजेश खोखर से बिल्डिंग विभाग तथा फायर बिग्रेड का चार्ज छीन कर ज्वाईंट कमिशनर शिखा भगत को सौंप दिया आदेश में यह भी कहा लिखा गया कि अगर ज्वाईट कमिशनर शिखा भगत चाहें तो राजेश खोखर एस्टेट अफसर की मदद ले सकती हैं अन्यथा शिखा भगत को बिल्डिंग विभाग तथा फायर बिग्रेड का पूरा चार्ज सौंप दिया गया है।

माना जा रहा है कि बीते दिनों राजेश खोखर की ओर से बिल्डिंग विभाग के अधिकारी को सौंपे गए अतिरिक्त चार्ज संबधि भी नए आदेश जल्द जारी हो सकते हैं और बिल्डिंग विभाग को पटरी पर लाने के लिए ज्वाईट कमिशनर शिखा भगत का पुराना तर्जुबा भी काफी  मददगार साबित होगा।