Latest news
जालन्धर-मंडी फैंटनगंज में बनी दो बड़ी नाजायज इमारतों के खिलाफ कारवाई न करने वाले 7 अधिकारियों के खिल... जाल्नधर - Charcoal Restaurant में खाना खाकर बच्चों समेत तीन महिलाएं मौके पर हुई बेहोश,अस्पताल में भर... जालन्धरः डीसीपी नरेश डोगरा पर दिन चढ़ते ही गिरी एक ओर गाज, पढे पूरा मामला जालन्धरः दुकानदारों के मामूली विवाद ने लिया भयानक रुप,डीसीपी नरेश डोगरा के खिलाफ ही दर्ज हुई FIR, पढ... नशे में धुत व्यक्ति ने घर में घुसकर की मारपीट और तोड़फोड़, पुलिस के साथ भी झगड़ा पंजाब में सियासत गर्माई- ओप्रेशन लोटस के विवाद पर पंजाब में भाजपा पर केस दर्ज, विजीलैंस को सौंपी जां... चार साल बाद री-सील हुआ विरासत हवेली रैस्टोंरैंट (एम्पायर हेरीटेज) के पीछे क्या है राज, पढ़े क्यो चार... Plaza Hotel में बन रही Multistorey Market के मामले में निगम प्रशासन के खिलाफ अदालत में केस दायर करेग... प्रताप बाग के नजदीक एक दुकान के नक्शे पर बनी तीन सैनिटरी की दुकानें, चौथी की तैयारी पंजाब : SHO से परेशान ASI मुंशी ने थाने में खुद को मारी गोली, मौत

भाजपा मेे कलह-निगम चुनावों से पहले 4 पार्षद, 2 उपप्रधान और दो मंडल प्रधानों का इस्तीफा

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

रोज़ाना पोस्ट 

पंजाब भाजपा अध्यक्ष अश्वनी शर्मा और नए संगठन मंत्री श्रीनिवासुलू के रविवार को प्रस्तावित जालंधर दौरे से पहले भाजपा में बड़ी बगावत सामने आई है। शुक्रवार शाम को नगर निगम में विपक्षी दल भाजपा के उपनेता पार्षद वरेश मिंटू भगत, पार्षद श्वेता धीर, पार्षद चंद्रजीत कौर संधा व पार्षद अनीता रानी ने पार्टी छोड़ दी। इनके अलावा मंडल प्रधान प्रभदयाल व सौरभ सेठ समेत जिला भाजपा के उपप्रधान विनीत धीर व अमित सिंह संधा ने भी पदों से इस्तीफा दे दिया

इन सभी नेताओं ने आरोप लगाया है कि पार्टी में उनकी लगातार अनदेखी हो रही थी और ऐसे लोगों को आगे किया जा रहा था जो नेताओं की चमचागिरी करते हैं और काम कुछ भी नहीं करते। जालंधर वेस्ट हलके से चार पार्षदों के भाजपा छोड़ने के बाद अब वेस्ट हलके में भाजपा का एक भी पार्षद नहीं रहा है। अश्वनी शर्मा और श्रीनिवासुलू रविवार शाम को जालंधर वेस्ट हलके में ही कार्यकर्ताओं से मीटिंग करनी है। ये इस्तीफे वेस्ट हलके से भाजपा के इंचार्ज एवं प्रदेश प्रवक्ता मोहिंदर भगत के लिए भी बड़ा झटका है।

 

श्वेता धीर ने तो जिला अध्यक्ष पर ही आरोपों की झड़ी लगाई है। उन्होंने कहा कि जब से सुशील शर्मा प्रधान बने हैं, उन्हें किसी कार्यक्रम तक की सूचना नहीं दी जाती। मंडल नंबर 9 के प्रधान सौरव सेठ ने सभी पदों से इस्तीफा देते हुए कहा है कि उन्होंने अपना इस्तीफा अश्वनी शर्मा को भेज दिया है। सौरभ सेठ ने कहा है कि पार्टी में काम करने वाले कार्यकर्ताओं की अनदेखी हो रही है। इसी वजह से वह पार्टी छोड़ रहे हैं।

 

विनीत धीर ने कहा है कि जिला भाजपा अध्यक्ष सुशील शर्मा तो पार्षदों से बात तक नहीं करते। कोई भी फैसला काबिलियत के हिसाब से लेने के बजाए अपने खास लोगों को ही तरजीह देते हैं। उन्होंने कहा कि वह पार्टी के इंडस्ट्रियल सेल के प्रधान रह चुके हैं। जिला उपप्रधान, कार्यकारिणी सदस्य समेत कई महत्वपूर्ण पदों पर पिछले 12 सालों से सेवाएं दे रहे हैं और पार्टी की मजबूती के लिए काम किया है लेकिन पिछले दो साल में हालात काफी बिगड़ गए हैं।