Latest news
MCD में फिर बजेगा AAP का डंगा, दिल्ली की जनता ने माना AAP कट्टर ईमानदार पार्टी- मनीष सिसोदिया Kulhad Pizza का नया विवाद शुरु, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो खूब हो रहा ट्रौल जालंधर-फगवाड़ा गेट की हांगकांग मार्किट को सील करने की तैयारी, कांग्रेसी राज में किसने वसूले थे 28 ला... अटारी बाजार बोर्ड वाला चौंक के पास फिर शुरु हुआ 35 अवैध दुकानों का निर्माण, "पुरानी फाईल गायब, सिस्ट... जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड

जालन्धर तहसील में भ्रष्टाचार पर पहला वार, 4.80 हजार रिश्वत मांगने वाली महिला कलर्क मीनू गिरफ्तार



रोजाना पोस्ट




एंटी करप्शन हेल्पलाइन पर शिकायत के बाद जालंधर की तहसील में काम करने वाली महिला क्लर्क मीनू की गिरफ्तारी इस मुहिम की पहली कार्रवाई है। महिला क्लर्क को नौकरी दिलवाने के नाम पर 4.80 हजार की रिश्वत लेने के मामले में पकड़ा गया है। मीनू को वीडियो और स्क्रीन शाट ने फंसा दिया।

मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार निरोधक हेल्पलाइन नंबर पर दी शिकायत में सदर नकोदर के रहने वाले सुरिंदर कुमार ने बताया कि वह सब्जी बेचता है। उसकी बेटी नैंसी फैक्ट्री में काम करती है और छोटा बेटा हिमांशु है। वह एक शादी समारोह में गया था, जहां उसे मीनू मिली। मीनू ने उसे बताया कि वह तहसील में क्लर्क है, जिस पर उसने अपनी बड़ी बेटी नैंसी को नौकरी में लगाने की बात कही। शिकायत में सुरिंदर ने बताया कि मीनू ने उसे कहा कि वो नैंसी को डीसी आफिस में नौकरी दिलवा देगी। इसके बदले में उसे साढ़े तीन लाख रुपये रिश्वत देने पड़ेंगे।

सुरिंदर ने उसे कहा कि वे इतने पैसे नहीं दे पाएगा, लेकिन मीनू नहीं मानी। सुरिंदर ने बताया कि उसने थोड़े-थोड़े कर उसे उक्त राशि दे दी। बाद में मीनू ने एक लाख रुपये और मांगा। इसके बाद उसने मीनू को अपने घर बुलाकर एक लाख रुपये भी दे दिया, जिसकी वीडियोग्राफी उसके बेटे हिमांशु ने की। इसी बीच मीनू की तरफ से एक लाख रुपये मांगने का मैसेज भी उसकी बेटी नैंसी ने सेव कर लिया था। इसके बाद न तो उनकी बेटी को सरकारी नौकरी मिली और न ही मीनू ने पैसे वापस किए। इसी आधार पर उन्होंने मुख्यमंत्री के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत दर्ज करवा दी।