Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

जालन्धर तहसील में भ्रष्टाचार पर पहला वार, 4.80 हजार रिश्वत मांगने वाली महिला कलर्क मीनू गिरफ्तार

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

रोजाना पोस्ट

एंटी करप्शन हेल्पलाइन पर शिकायत के बाद जालंधर की तहसील में काम करने वाली महिला क्लर्क मीनू की गिरफ्तारी इस मुहिम की पहली कार्रवाई है। महिला क्लर्क को नौकरी दिलवाने के नाम पर 4.80 हजार की रिश्वत लेने के मामले में पकड़ा गया है। मीनू को वीडियो और स्क्रीन शाट ने फंसा दिया।

मुख्यमंत्री के भ्रष्टाचार निरोधक हेल्पलाइन नंबर पर दी शिकायत में सदर नकोदर के रहने वाले सुरिंदर कुमार ने बताया कि वह सब्जी बेचता है। उसकी बेटी नैंसी फैक्ट्री में काम करती है और छोटा बेटा हिमांशु है। वह एक शादी समारोह में गया था, जहां उसे मीनू मिली। मीनू ने उसे बताया कि वह तहसील में क्लर्क है, जिस पर उसने अपनी बड़ी बेटी नैंसी को नौकरी में लगाने की बात कही। शिकायत में सुरिंदर ने बताया कि मीनू ने उसे कहा कि वो नैंसी को डीसी आफिस में नौकरी दिलवा देगी। इसके बदले में उसे साढ़े तीन लाख रुपये रिश्वत देने पड़ेंगे।

सुरिंदर ने उसे कहा कि वे इतने पैसे नहीं दे पाएगा, लेकिन मीनू नहीं मानी। सुरिंदर ने बताया कि उसने थोड़े-थोड़े कर उसे उक्त राशि दे दी। बाद में मीनू ने एक लाख रुपये और मांगा। इसके बाद उसने मीनू को अपने घर बुलाकर एक लाख रुपये भी दे दिया, जिसकी वीडियोग्राफी उसके बेटे हिमांशु ने की। इसी बीच मीनू की तरफ से एक लाख रुपये मांगने का मैसेज भी उसकी बेटी नैंसी ने सेव कर लिया था। इसके बाद न तो उनकी बेटी को सरकारी नौकरी मिली और न ही मीनू ने पैसे वापस किए। इसी आधार पर उन्होंने मुख्यमंत्री के हेल्पलाइन नंबर पर शिकायत दर्ज करवा दी।