Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

इंप्रूवमैंट ट्रस्ट चैक घोटाले में अकांऊटैंट पर गिर सकती है गाज, सीवीओ ने शार्ट लिस्ट किए नाम !

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

अनिल वर्मा

इंप्रूवमेंट ट्रस्ट में छह लाख रुपये की गड़बड़ी का मामला तूल पकड़ता जा रहा है। इस मामले में अकांऊटैंट अशीष के आसपास शक की सूई घूम रही है। माना जा रहा है कि चैक पर ईओ परमिंदर को बाईपास करके बैंक से दो चैक क्लीयर करवाए गए जिसमें एक लाख तथा दूसरा पांच लाख का था। इस मामले में ट्रस्ट को एक लाख रुपये के खर्च का बिल मिल गया है जिसका खर्च इलैक्शन स्टाफ के खाने पीने पर खर्च किया बताया जा रहा है। लेकिन अभी पांच लाख के चैक का कोई बिल सामने नहीं आया। आखिर अकांऊटैंट अशीष ने बिना बिल कैसे चैक रिलीस कर दिए और बैंक से क्लीयर करवा दिए। सीवीओ राजीव सेखड़ी इस मामले में अकांऊटैंट से पूछताछ करने के लिए जल्त ही चंडीगढ़ तलब कर सकते हैं। माना जा रहा है कि इस चैक के बदले आईफोन खरीदने की भी चर्चा है फिलहाल इस मामले में ट्रस्ट का कोई भी मुलाजिम मुंह खोलने से कतरा रहा है।

President of Erection Improvement Trust Jalandhar and EO's government vehicle attached online | इंप्रूवमेंट ट्रस्ट जालंधर के चेयरमैन और EO की सरकारी गाड़ी ऑनलाइन अटैच - Dainik Bhaskar

उधर ईओ  परमिंदर पांच लाख रुपए का चेक जारी करने की बात से इंकार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उनकी जानकारी में ऐसा काई चेक नहीं है लेकिन वह इस पर अकाउंट्स ब्रांच से जानकारी लेकर ही कुछ कह पाएंगे। यह भी बताया जा रहा है कि सीवीओ राजीव सेखड़ी ने इसे मामले की फाइल पर कार्रवाई शुरू कर दी है और इसमें अफसर और मुलाजिम कार्रवाई के दायरे में आ सकते हैं।