Latest news
MCD में फिर बजेगा AAP का डंगा, दिल्ली की जनता ने माना AAP कट्टर ईमानदार पार्टी- मनीष सिसोदिया Kulhad Pizza का नया विवाद शुरु, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो खूब हो रहा ट्रौल जालंधर-फगवाड़ा गेट की हांगकांग मार्किट को सील करने की तैयारी, कांग्रेसी राज में किसने वसूले थे 28 ला... अटारी बाजार बोर्ड वाला चौंक के पास फिर शुरु हुआ 35 अवैध दुकानों का निर्माण, "पुरानी फाईल गायब, सिस्ट... जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड

इनोसेंट हाट्र्स कालेज ऑफ एजुकेशन जालन्धर का एक बार फिर शिक्षा के क्षेत्र में बेहतरीन प्रदर्शन



जालन्धर अनिल वर्मा




innocent hearts college result इनोसेंट हाट्र्स कालेज ऑफ एजुकेशन, जालन्धर प्रत्येक वर्ष बेहतर प्रदर्शन के साथ शिक्षा के क्षेत्र में अग्रणी रहा है, जो इस वर्ष भी जीएनडीयू, बी.एड परीक्षा सेमेस्टर-II (मई – 2021) के परिणाम स्पष्ट रूप से परिलक्षित हो रहा है। 45 विद्यार्थी-अध्यापकों में से 39 विद्यार्थी-अध्यापकों ने डिस्टिंक्शन हासिल की है और 43 विद्यार्थी-अध्यापकों ने प्रथम श्रेणी हासिल की है।

कालेज में नर्गिस जैतवानी, कृतिका मागो, मिताली राणा, नेहा गोस्वामी, शिखा सनन, अंकिता सूरी, पलक व तनु अरोड़ा ने 86.73 प्रतिशत अंकों के साथ पहला स्थान हासिल किया। गुणप्रीत कौर ने 85.68 प्रतिशत अंकों के साथ दूसरा, डोरस मल्होत्रा ने 85.26 प्रतिशत अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया, अमनप्रीत कौर व कोमल वर्मा ने 84.84 प्रतिशत अंकों के साथ चौथा स्थान हासिल किया।

मेधावी छात्रों ने अपनी सफलता का श्रेय अपने माता-पिता, शिक्षकों और कालेज के वातावरण को दिया। गुणप्रीत कौर ने कहा कि दूसरा स्थान हासिल करना मेरे लिए बहुत मायने रखता है क्योंकि मैंने इस परीक्षा के लिए वास्तव में कठिन तैयारी की थी। सारा श्रेय खुद लेना गलत होगा क्योंकि इस तरह मैं अपने शिक्षकों और परिवार द्वारा किए गए प्रयासों को अनदेखा करूंगी। मैं परिश्रमी व प्रेरक शिक्षकों को पाकर बहुत धन्य हूं। इस अवसर पर मैनेजमैंट सदस्यों, प्राचार्य व स्टाफ सदस्यों ने विद्यार्थी-अध्यापकों को उनकी शानदार उपलब्धियों के लिए बधाई दी।