Latest news
MCD में फिर बजेगा AAP का डंगा, दिल्ली की जनता ने माना AAP कट्टर ईमानदार पार्टी- मनीष सिसोदिया Kulhad Pizza का नया विवाद शुरु, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो खूब हो रहा ट्रौल जालंधर-फगवाड़ा गेट की हांगकांग मार्किट को सील करने की तैयारी, कांग्रेसी राज में किसने वसूले थे 28 ला... अटारी बाजार बोर्ड वाला चौंक के पास फिर शुरु हुआ 35 अवैध दुकानों का निर्माण, "पुरानी फाईल गायब, सिस्ट... जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड

जालन्धर- “कांग्रेसियों के दबाव” वाली 35 अवैध कारोबारी इमारतों के खिलाफ शीघ्र कारवाई करने के आदेश जारी !



रोजाना पोस्ट




Action against Illegal buildings in Jalandharअवैध बिल्डिंगों के खिलाफ कारवाई करने के लिए एमटीपी मेहरबान सिंह ने सभी एटीपी तथा बिल्डिंग इंस्पैक्टरों को शीघ्र कारवाई करने के आदेश जारी किए हैं। बीते दो महीनों से लगातार चल ही चुनावी ड्यूटी के चलते शहर में अवैध बिल्डिंगों की बाढ़ आ गई थी जिसे सियासी सरंक्षण का नाम दे कर कारवाई से दूर रखा जा रहा था मगर अब उन अवैध बिल्डिंगों पर किसी भी वक्त डिच चल सकती है। जानकारी अनुसार शुरुआत में शहर की 35  अवैध बिल्डिंगों की सूची तैयार की गई है जिनके खिलाफ एटीपी तथा बिल्डिंग इस्पैक्टरों को तुरन्त एक्शन लेने के लिए आदेश दिए गए थे मगर चुनावी ड्य़ूटी में व्यस्त होने के चलते इन आदेशों का पालन नहीं हो सका। इस सूची में उन बिल्डिंगों को भी शामिल किया गया है जिनको अवैध घोषित करते हुए सील कर दिया गया था मगर सियासी दबाव के बाद खानापूर्ति करने के लिए एफीडेविट के आधार पर सीलें खोल दी गई थी। एफीडेविटों में प्राप्टी मालिकों ने बिल्डिंग को रिहायशी या फिर नान कम्पाऊडेबल हिस्से को डिमोलिश करने के लिए कहा था मगर किसी एक ने भी शर्तों का पालन नहीं किया। 

सूत्रों अनुसार माईहीरां गेट में स्थित किरण बुक शाप, मिशन कम्पाऊंड की 6 दुकानें,पाली हिल के बाहर, रतन फर्नीचर, पुरानी सब्जी मंडी चौक ठेके वाली बिल्डिंग,फिश मार्किट के साथ बनी अवैध दुकाने,पंजाब पैलेस के सामने मिट्ठा पुर,  दुल्हन पैलेस ताज पैलेस के साथ तथा अन्य अलग अलग जगहों पर बनाई अवैध कालोनियां तथा इमारते शामिल है। पहली सूची में सिर्फ सियासी सिफारिश वाली अवैध बिल्डिंगों को ही शामिल किया गया है। विभाग किसी भी वक्त अब बड़ी कारवाई कर सकता है।