Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

Kiran Book Depot के मालिक किरण आनंद ने की गिरी हुई हरकत, दिल्ली की कम्पनी की शिकायत के आधार पर पर्चा दर्ज, गिरफ्तार

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

अनिल वर्मा

माई हीरा गेट में स्थित किरण बुक डिपो के मालिक किरण आनंद के खिलाफ जालन्धर पुलिस ने धौखाधड़ी और कॉपी राईट का केस दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया है। यह कारवाई नोएडा की पीएम पब्लिशर्ज के गौतम द्वारा जालन्धर पुलिस कमिशनर को दी गई शिकायत के आधार पर की गई  छापेमारी के बाद की गई। शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया था कि किरण बुक डिपो में 6 वीं और 8 वीं क्लास की किताबें डुप्लीकेट छाप कर बाजार में बेची जा रही थी। पुलिस ने शिकायतकर्ता को साथ लेकर मौके पर छापेमारी की और वहां से भारी मात्रा में डुप्लीकेट किताबें बरामद हुई।

 

 

पुलिस ने मौके पर ही किरण बुक डिपो के मालिक किरण आंनद के खिलाफ पर्चा दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है। बता दें कि किरण बुक उस वक्त चर्चा में आया था जब बीते वर्ष एक पीए की सिफारिश पर किरण बुक शाप के पीछे कई रिहायशी मकानों को खुर्दपुर्द करके उसकी जमीन को दुकान के साथ मिला लिया था जिसका नगर निगम से कोई भी नक्शा पास नहीं करवाया गया था। कई शिकायतों के बाद निगम ने उक्त इमारत को सील किया मगर हकीकत में इस दुकान के पीछे सरेआम काम चलता रहा मगर कांग्रेसी नेता के पीए की सिफारिश पर नगर निगम ने कोई कारवाई नहीं की। सत्ता परिवर्तन होने के बाद अब किसी भी किरण बुक शॉप को निगन सील कर सकता है क्योंकि इस इमारत का कंपाऊंडिंग प्लान को निगम रिजैक्ट करने की तैयारी कर रहा है इस इमारत में पार्किंग के लिए कोई भी जगह नहीं छोड़ी गई और पीछे रिहायशी मकानों का कोई भी सीएलयू नहीं करवाया गया जिससे सरकार को लाखों रुपये के रैवन्यू का नुक्सान हुआ।