Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

चुनाव आयोग की बड़ी कारवाई, पूर्व मंत्री अश्वनी सेखड़ी सहित 15 लोगों के खिलाफ पर्चा दर्ज

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

रोज़ाना पोस्ट 

FIR registered against ashwani sekhri पंजाब में चुनावों दौरान कई जगह मारपीट के मामले सामने आए जिसमें अमृतसर से कांग्रेसी प्रत्याशी एवं पूर्व मंत्री अश्वनी सेखड़ी का शराब ठेकेदार के साथ विवाद के बाद पुलिस ने दबाव में कोई कारवाई नहीं की थी लेकिन इस मामले में चुनाव आयोग को ठेकेदार द्वारा की गई शिकायत के बाद पूर्व मंत्री और कांग्रेस प्रत्याशी अश्वनी सेखड़ी व 15 अज्ञात लोगों के खिलाफ बटाला पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है। मामला शराब कारोबारी के बयान पर दर्ज किया गया है, लेकिन अमृतसर पुलिस ने इस मामले में अभी किसी को भी गिरफ्तार नहीं किया है।

 

पुलिस की तरफ से दर्ज की गई एफआईआर।

घटना 18 फरवरी रात की है। रात के 11 बजे पूर्व मंत्री के आवास के पास एक शराब ठेकेदार की गाड़ी खड़ी थी। सेखड़ी के समर्थक उस गाड़ी के पास पहुंचे तो ईंटें बरसाने लगे। पहले गाड़ी को तोड़ा गया और फिर आपस में धक्कामुक्की की तस्वीरें सामने आई थीं।

घटना के वक्त किसी अज्ञात ने वीडियो बनाकर वायरल कर दिया। पहले तो पुलिस मामला दर्ज करने में आनाकानी करती रही, लेकिन चुनाव आयोग के कहने पर मामला दर्ज किया गया। शिकायतकर्ता कुछ समय पहले ही अकाली दल को छोड़ कांग्रेस में शामिल हुआ था।

पुलिस ने शिकायतकर्ता के कहने पर मामला दर्ज नहीं किया था। फिर इसकी शिकायत जिले के डीसी कम चुनाव अधिकारी को की गई। डीसी मुहम्मद इकबाल की दखलअंदाजी के बाद पुलिस ने अश्वनी सेखड़ी व अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया।