Latest news
जालन्धर-मंडी फैंटनगंज में बनी दो बड़ी नाजायज इमारतों के खिलाफ कारवाई न करने वाले 7 अधिकारियों के खिल... जाल्नधर - Charcoal Restaurant में खाना खाकर बच्चों समेत तीन महिलाएं मौके पर हुई बेहोश,अस्पताल में भर... जालन्धरः डीसीपी नरेश डोगरा पर दिन चढ़ते ही गिरी एक ओर गाज, पढे पूरा मामला जालन्धरः दुकानदारों के मामूली विवाद ने लिया भयानक रुप,डीसीपी नरेश डोगरा के खिलाफ ही दर्ज हुई FIR, पढ... नशे में धुत व्यक्ति ने घर में घुसकर की मारपीट और तोड़फोड़, पुलिस के साथ भी झगड़ा पंजाब में सियासत गर्माई- ओप्रेशन लोटस के विवाद पर पंजाब में भाजपा पर केस दर्ज, विजीलैंस को सौंपी जां... चार साल बाद री-सील हुआ विरासत हवेली रैस्टोंरैंट (एम्पायर हेरीटेज) के पीछे क्या है राज, पढ़े क्यो चार... Plaza Hotel में बन रही Multistorey Market के मामले में निगम प्रशासन के खिलाफ अदालत में केस दायर करेग... प्रताप बाग के नजदीक एक दुकान के नक्शे पर बनी तीन सैनिटरी की दुकानें, चौथी की तैयारी पंजाब : SHO से परेशान ASI मुंशी ने थाने में खुद को मारी गोली, मौत

Plaza Hotel में बन रही Multistorey Market के मामले में निगम प्रशासन के खिलाफ अदालत में केस दायर करेगी जनहित सोसायटी, 6 अफसरों को पार्टी बनाने की तैयारी, पढ़े पूरा मामला

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

अनिल वर्मा

जालन्धर सिविल लाईन्स में स्थित शहर का सबसे पुराना प्लाजा होटल अब एक इतिहास बन कर रह जाएगा क्योंकि इस होटल के अंदर सभी कमरे, रैस्टोरैंट, बार, पार्किंग तथा पोरश एरिया को खत्म कर दुकानें बनाई जा रही हैं यह काम पिछले करीब एक साल से लगातार जारी है। बिल्डिंग विभाग के पूर्व एटीपी रजिंदर शर्मा ने पूर्व बिल्डिंग इंस्पैक्टर दिेनेश जोशी की रिपोर्ट पर इस होटल की 4 मरले पार्किंग में रिहायशी नक्शा पास किया था मगर यहां निर्माण कारोबारी शुरु हो गया जिसके खिलाफ खानापूर्ति वाली करते हुए दोनो पूर्व अधिकारियों ने फ्रंट वाली दीवार को लात मार कर गिरा दिया मगर निर्माण नहीं रुका इसके बाद यहां उपरी मंजिल पर भी इसी तरह लैंटर डाल दिया गया मगर इस बार विभाग ने कोई कारवाई नहीं की। लिहाजा यहां 15 दुकानों वाली अवैध मार्किट तैयार हो गई और शटर लग गए।

 

यह सिलसिला यहीं नहीं रुका इसके बाद होटल प्लाजा के अंदर सभी कमरों, रैस्टोरैंट, बार तथा पोरश एरिया को दुकानों में तबदील करने के लिए युद्धस्तर पर काम शुरु हो गया जोकि अभी भी जारी है। मामले में निगम कमिशनर दविंदर सिंह, पूर्व सहायक कमिशनर राजेश खोखर तथा एमटीपी नीरज भट्टी तक शिकायतें पहुंची मगर इन्होने सभी शिकायतों को इग्नोर कर मौके पर काम नहीं रुकवाया मामला मुख्यमंत्री दरबार पहुंचा तो निगम कमिशनर को फटकार लगी और प्लाजा होटल का रिकार्ड तलब किया गया।

फिलहाल इस मामले में दो बार निगम अफसरों की चंडीगढ़ पेशी हो चुकी है जिसमें पेश किए दस्तावेजों के अनुसार बिल्डिंग विभाग की घोरलापरवाही सामने आई है कि यहां चल रहे अवैध निर्णाण को रुकवाने के लिए एटीपी तथा बिल़्डिंग इंस्पैक्टर ने कोई नोटिस ही जारी नहीं किया और न ही कोई रिकार्ड मेनटेन किया गया। अब इस होटल की पार्किंग में रिहायशी नक्शा पास करने वाले अफसरों के खिलाफ चंडीगढ़ स्तर पर चार्जशीट जारी होने की खबर है जल्द ही इन दोनो पूर्व अधिकारियों को भी चंडीगढ़ तलब किया जा सकता है।

मिली जानकारी अनुसार शिकायतकर्ता जनहित सोसायटी द्वारा प्लाजा होटल के कब-कब और कितना निर्णाण हुआ इसकी वीडियोग्राफी भी चंडीगढ़ भेजी जा चुकी है जिसके बाद यहां तुरंत काम बंद करवाने के कई आदेश भी जारी हो चुके हैं मगर बिल्डिंग विभाग के एमटीपी नीरज भट्टी तथा एटीपी सुषमा दुग्गल सैक्टर में बिल्डिंग इंस्पैक्टर न होने का दुखड़ा रोकर कोई कारवाई नहीं कर रहे इसी लापरवाही के कारण सरकार का बड़े स्तर पर रैवन्यू लॉस हो रहा है।

वहीं जनहित सोसायटी के शिकायतकर्ता ने कहा कि वह इस मामले में जल्द ही अदालत में केस दायर करने की तैयारी कर रहे हैं जिसमें नगर निगम कमिशनर दविंदर सिंह,सहायक कमिशनर कम ईओ राजेश खोखर, एमटीपी नीरज भट्टी, एटीपी सुषमा दुग्गल, पूर्व एटीपी रजिंदर शर्मा तथा पूर्व बिल्डंग इंस्पैक्टर दिनेश जोशी को पार्टी बनाया जाएगा।