Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

पंजाब : बसपा का फर्जी प्रत्याशी गिरफ्तार , संगीन धाराओं के तहत दर्ज हुआ केस , पड़े पूरी खबर

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

रोज़ाना पोस्ट 

बसपा की टिकट पर नवांशहर विधानसभा क्षेत्र से दो प्रत्याशियों के नामांकन पर विवाद के बाद वीरवार देर रात दूसरे प्रत्याशी बरजिंदर सिंह हुसैनपुर को गिरफ्तार कर लिया गया। उन पर ठगी करने के आरोप के अलावा विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने रिटर्निंग अधिकारी बलजिंदर सिंह की शिकायत के बाद कार्रवाई की है। 2 फरवरी को बरजिंदर सिंह हुसैनपुर ने बसपा की ओर से नामांकन भरने के बाद खुद को असली प्रत्याशी बताया था जबकि प्रदेश पार्टी अध्यक्ष का दावा था कि बसपा ने नछत्तर पाल को प्रत्याशी घोषित किया है और वह पहले ही नामांकन कर चुके हैं। 

जांच के बाद वीरवार को रिटर्निंग अफसर बलजिदर सिंह ने नछत्तर पाल को बसपा का असली उम्मीदवार घोषित किया था। इसके बाद बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पर कार्रवाई की गई है। बता दें कि बुधवार देर शाम बसपा सुप्रीमो मायावती ने रिटर्निंग अधिकारी से वाट्सएप पर वीडियो काल करके अपना पक्ष रखा गया। इससे पहले मायावती ने दो बार मेल भेजकर रिटर्निंग अफसर को बताया था कि नछत्तर पाल को ही पार्टी ने टिकट दिया है। बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी नहीं है। इधर, बसपा पंजाब प्रधान जसवीर सिंह गढ़ी का दावा था कि हुसैनपुर ने फर्जी दस्तावेज से नामांकन भरा है।