Latest news
जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड निगम की मिसमैनेजमैंट का संताप नहीं झेलेंगे 66 फुटी रोड वासी, ट्रीटमैंट प्लांट पर कूड़ा फैंकना बंद कर... पंजाब- बिल्डिंग इंस्पैकटर हरप्रीत कौर को लोकल बॉडी विभाग ने किया सस्पैंड, पढ़े क्या है कारण सनसनी- जालन्धर रेलवे स्टेशन पर रखे अटैची में 32 वर्षीय व्यक्ति का शव बरामद, सीसीटीवी खंगाल रही पुलिस डीसी दफ्तर में फिर हड़ताल का बज सकता है बिगुल, यूनियन नेता पवन वर्मा के खिलाफ दर्ज हुई FIR के बाद पं...

पंजाब : बसपा का फर्जी प्रत्याशी गिरफ्तार , संगीन धाराओं के तहत दर्ज हुआ केस , पड़े पूरी खबर



रोज़ाना पोस्ट 




बसपा की टिकट पर नवांशहर विधानसभा क्षेत्र से दो प्रत्याशियों के नामांकन पर विवाद के बाद वीरवार देर रात दूसरे प्रत्याशी बरजिंदर सिंह हुसैनपुर को गिरफ्तार कर लिया गया। उन पर ठगी करने के आरोप के अलावा विभिन्न धाराओं में केस दर्ज किया गया है। पुलिस ने रिटर्निंग अधिकारी बलजिंदर सिंह की शिकायत के बाद कार्रवाई की है। 2 फरवरी को बरजिंदर सिंह हुसैनपुर ने बसपा की ओर से नामांकन भरने के बाद खुद को असली प्रत्याशी बताया था जबकि प्रदेश पार्टी अध्यक्ष का दावा था कि बसपा ने नछत्तर पाल को प्रत्याशी घोषित किया है और वह पहले ही नामांकन कर चुके हैं। 

जांच के बाद वीरवार को रिटर्निंग अफसर बलजिदर सिंह ने नछत्तर पाल को बसपा का असली उम्मीदवार घोषित किया था। इसके बाद बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पर कार्रवाई की गई है। बता दें कि बुधवार देर शाम बसपा सुप्रीमो मायावती ने रिटर्निंग अधिकारी से वाट्सएप पर वीडियो काल करके अपना पक्ष रखा गया। इससे पहले मायावती ने दो बार मेल भेजकर रिटर्निंग अफसर को बताया था कि नछत्तर पाल को ही पार्टी ने टिकट दिया है। बरजिंदर सिंह हुसैनपुर पार्टी का अधिकृत प्रत्याशी नहीं है। इधर, बसपा पंजाब प्रधान जसवीर सिंह गढ़ी का दावा था कि हुसैनपुर ने फर्जी दस्तावेज से नामांकन भरा है।