Latest news
जालन्धर विनय मंदिर के पंडित के खिलाफ ब्लात्कार का मामला दर्ज, गिरफ्तार पंजाब पुलिस को खुली चुनौती- पीएपी हैडक्वार्टर की दीवारों पर लिखे खालिस्तानी नारे, मामला दर्ज पंजाब में अगले चार दिन लगातार भारी बारिश की चेतावनी,विभाग ने जारी किए निर्देश पंजाब - ड्रग इंस्पेक्टर बबलीन कौर को पुलिस ने किया गिरफ्तार , मुख्यमंत्री की एंटी करप्शन हेल्पलाइन प... जालंधर - शरारती तत्वों ने लम्बा पिंड सड़क पर खड़ी आधा दर्जन कारों के शीशे तोड़े, शिकायत दर्ज जालंधर मकसूदां सब्ज़ी मंडी में गैस स्लेंडर फटा, 1 घायल लख लाहनत- सीमा आर्ट ने 8वीं बार किया निगम की बेसमैंट पर कब्जा, वर्कशाप चालू डेविएट में खूनी टकराव - एक छात्र की मौके पर मौत, दो श्रीमन अस्पताल दाखिल जालंधर अर्बन एस्टेट में चल रहे स्पार्कल स्पा सेंटर में CIA की रेड, 2 जोड़े आपत्तिजनक हालत में काबू संगरूर लोकसभा चुनाव में वोटरों का नहीं नजर आ रहा उत्साह, अब तक सिर्फ इतने प्रतिशत हुआ मतदान

अवैध कालोनियों के प्लाटों की रजिस्ट्रेशन पर पंजाब सरकार सख्त, आज जारी हुए यह आदेश

innocent-jan-2022-strip
innocent-jan-2022-strip

 अनिल वर्मा

पंजाब के रियल एस्टेट कारोबार से जुड़े लोगों को पंजाब सरकार ने बड़ा झटका दिया है। आज जारी हुए आदेशों के अनुसार पंजाब के सभी सब रजिस्ट्रार, ज्वाईट रजिस्ट्रार को अवैध कालोनियों में प्लाटों की बिना एनओसी के रजिस्ट्रेशन करने पर सख्ती से रोक लगाने के आदेश जारी किए गए हैं। आदेशों अनुसार पंजाब में हजारों ऐसी अवैध कालोनियों है जोकि एग्रीकल्चर लैंड पर काटी गई है जिन्हे पंजाब सरकार ने कोई मंजूरी नहीं दी और कालोनाईजर बिना रोक टोक रैवन्यू विभाग के अफसरों के साथ मिलीभगत कर बिना एनओसी के ही प्लाटों की रजिस्ट्री करवा रहे थे। ऐसे कई मामलों में प्रत्येक बिना एनओसी की रजिस्ट्री के बदले 10 हजार से 30 हजार रुपये रिश्वत लेने की बात सामने आ चुकी है मगर सरकार के खाते में हररोज लाखों रुपये का नुक्सान हो रहा था।

इस खेल को बंद करने के लिए आज पंजाब सरकार के राजस्व विभाग ने मीमो नंबर 24/41/14/S.T.1/7314-16 Dt 24/05/2022 जारी कर पापरा एक्ट 1995 के सैक्शन 20(3) का हवाला देते हुए कहा कि ऐसे किसी भी रजिस्ट्रार या सब रजिस्ट्रार को नियुक्त नहीं किया जाएगा जोकि बिना लाईसैंस के कालोनी के प्लाटों की रजिस्ट्रेशन करे। अगर ऐसा कोई मामला सामने आता है तो रजिस्ट्रेशन करने वाले अधिकारी के खिलाफ सख्त कारवाई की जाएगी।

 

बता दें कि इससे पहले भी पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट द्वारा जारी हुए आदेशों के बाद बिना एनओसी के प्लाटों की रजिस्ट्री पर रोक लगा दी गई थी मगर यह खेल अंदर खाते बंद नही हुआ उल्टा रिश्वत की रकम दोगुणा हो गई। फिलहाल इस आदेशों के बाद रियल एस्टेट के कारोबार से जुड़े लोग जिन्होने अवैध कालोनियां काट कर सरकार का खजाना लूटने की कोशिश की उनके माथे पर चिंता की लकीरे खिंच गई है। कल से ऐसे किसी भी प्लाट की रजिस्ट्रेशन नहीं होगी जिसकी सबंधित विभाग द्वारा एनओसी जारी नहीं होगी।