Latest news
MCD में फिर बजेगा AAP का डंगा, दिल्ली की जनता ने माना AAP कट्टर ईमानदार पार्टी- मनीष सिसोदिया Kulhad Pizza का नया विवाद शुरु, सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा वीडियो खूब हो रहा ट्रौल जालंधर-फगवाड़ा गेट की हांगकांग मार्किट को सील करने की तैयारी, कांग्रेसी राज में किसने वसूले थे 28 ला... अटारी बाजार बोर्ड वाला चौंक के पास फिर शुरु हुआ 35 अवैध दुकानों का निर्माण, "पुरानी फाईल गायब, सिस्ट... जालन्धर तहसील में हुए विवाद में आरोपी पवन कुमार को मिली अदालत से राहत, जांच में शामिल पंजाब- शिक्षा के मंदिर में बच्चों के परिजनों ने की कर्लक की जमकर धुलाई, सीसीटीवी वायरल जालन्धर- AAP की सरकार में "बेरोजगार" हुए तकनीकि बिल्डिंग इंस्पैक्टर, 10 दिनों बाद भी नहीं सौंपा गया ... निगम के लिए एक ओर बड़ी मुसीबत-फोल्ड़ीवाल ट्रीटमैंट प्लांट के बाहर तंबू लगाकर शुरु हुआ प्रर्दशन,कूड़े... पूर्व कैबिनेट मंत्री सुंदर शाम अरोड़ा की जमानत याचिका पर आया यह फैसला, विजीलैंस ने कोर्ट के समक्ष रख... आम आदमी पार्टी के विधायक की सिफारिश पर लगी महिला SHO भ्रष्टाचार के केस में सस्पेंड

जोशी अस्पताल की बेसमैंट का मामला- विधायक रमन अरोड़ा की हो रही किरकिरी, बिल्डिंग इंस्पैक्टर दिनेश जोशी, एटीपी विनोद कुमार और ठेकेदार जब्बार खां के खिलाफ कारवाई करवाने के लिए खुद एमएलए ने सैक्ट्ररी को सौंपी शिकायत



बिल़्डिंग विभाग में ही सिर्फ 1132 शिकायतें पैंडिंग




अनिल वर्मा

Joshi Hospital basement नगर निगम के टाऊन प्लानिंग विभाग में इस हद तक भ्रष्टाचार व्याप्त है यहां किसी भी शिकायत का निपटारा नहीं किया जाता है और  न ही किसी मामले की जानकारी आरटीआई के माध्यम से दी जाती है। कपूरथला चौंक  में स्थित जोशी असप्ताल के साथ खोदी जा रही बेसमैंट के मामले में बीते सोमवार को सैंट्रल हल्के से विधायक रमन अरोड़ा और वैस्ट हल्के से विधायक शीतल अंगुराल ने खुद कमिशनर करनेश शर्मा से मुलाकात कर शीघ्र कारवाई करने के लिए कहा था मगर पाचं दिन बीत जाने के बाद भी निगम की ओर से बिल्डंग इंस्पैक्टर दिनेश जोशी , एटीपी विनोद कुमार और कांग्रेसी ठेकेदार जब्बार खां के खिलाफ कोई भी कारवाई नहीं की गई। इस मामले  में सैंट्रल हल्के से विधायक रमन अरोड़ा की खूब किरकिर हो रही है। 

निगम  में खुद की सुनवाई न होते देख विधायक रमन अरोड़ा ने खुद चंडीगढ़ पहुंच कर जोशी अस्पताल में दोषी सभी मुलाजिमों और ठेकेदारों के खिलाफ कारवाई करवाने के लिए प्रिंसीपल सैक्टरी अजोय कुमार सिन्हा को शिकायत सौंपनी पड़ी। बता दें कि बीते रविवार रात विधायक रमन अरोड़ा ने खुद मौके पर पहुंच कर आसपास की रिहायशी इमारतों के बुरी तरह धंसने का जायजा किया था और तुरंत मामले में कानूनी कारवाई करने का आश्वासन दिया था मगर पांच दिन बीत जाने के बाद भी किसी भी मुलाजिम या ठेकेदार के खिलाफ सख्त कारवाई नहीं की गई।इस बेसमैंट की खुदाई कांग्रेस सरकार में बिल्डिंग एंड अदर कंस्ट्रक्शन वेलफेयर बोर्ड के सदस्य जब्बार खां की ओर से की जा रही थी आरोप है कि जब्बार खां के पास कोई भी इंजीनियरिंग की डिग्री नहीं है। लेकिन फिर भी उसे कांग्रेसी नेताओं से नजदीकियों के चलते बड़े बड़े प्रौजेक्ट मिलते रहे। 

विधायक ने जब्बार खान को किया सम्मानित 

जोशी अस्पताल के मामले में बरती गई लापरवाही का खुद सैंट्रल हल्के से विधायक रमन अरोड़ा ने पोल खोली थी और अगले दिन निगम कमिशनर करनेश शर्मा को उक्त मामले में मुलाजिमों की ओर से बरती गई लापरवाही के चलते सख्त कारवाई करने के लिए कहा था मगर चार दिन बीतने के बाद भी निगम कमिशनर ने किसी भी मुलाजिम के खिलाफ कोई कारवाई नहीं की। हालाकिं एमटीपी मेहरबान सिहं ने खानापूर्ति करते हुए बिल़्डिंग इंस्पैक्टर दिनेश जोशी और एटीपी विनोद कुमार को कारण बताओ नोटिस जारी किया था मगर अभी तक दोनो मुलाजिमों की ओर से कोई भी तस्सलीबक्श ज्वाब नहीं दिया गया। कमिशनर करनेश शर्मा की ओर से जोशी अस्पताल के साथ खोदी जा रही बेसमैंट को दोबारा भरने के आदेश जारी कर दिए गए है और यहां बनने वाली इमारत का नक्शा रद्द कर दिया गया है।